Search This Blog

Dec 22, 2016

🔘 जानकारी छिपाने और गलत सूचना देने के कारण आरडीए का समयपाल निलंबित

ट्रांसपोर्टनगर के प्लॉटों का सर्वेक्षण के लिए बनाई गई टीम
📌 रायपुर, 22 दिसंबर 2016, डॉ. खूबचंद बघेल ट्रांसपोर्टनगर रावांभाठा प्राधिकरण के कुछ प्लॉटों में निर्माण संबंधी जानकारी छिपाने व गलत सूचना देने के कारण रायपुर विकास प्राधिकरण प्रशासन ने योजना के समयपाल विनोद वोरा को आज निलंबित कर दिया गया. प्राधिकरण मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.डी. कावरे ने इस कार्रवाई के बाद राजस्व और तकनीकी शाखा की एक अलग से टीम बनाई है जो ट्रांसपोर्ट नगर योजना में प्लाटों का सर्वेक्षण कर निर्माण नहीं करने वाले प्लाटों के बारे में तीन दिनों में अपनी रिपोर्ट प्राधिकरण प्रशासन को सौंपेगी.
📌 प्राधिकरण मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.डी. कावरे ने बताया कि ट्रांसपोर्टनगर योजना में आंवटित प्लॉट के संबंध में प्राधिकरण प्रशासन व्दारा समय समय पर स्थल निरीक्षण कर जानकारी ली गई थी तथा निर्माण नहीं करने वाले भूखंड स्वामियों को लगातार नोटिस जारी कर उन्हें निर्माण कार्य के लिए प्रेरित किया जाता रहा है. इस दौरान योजना में होटल प्रयोजन के लिए आवंटित एक भूखंड के संबंध में सिर्फ बाऊन्ड्रीवाल का ही निर्माण किया गया था किन्तु समयपाल व्दारा इस संबंध में पहले तो जानकारी नहीं दी गई. बाद में यह बताया कि वहां निर्माण कार्य चल रहा है. आज श्री कावरे ने प्राधिकरण के अतिरिक्त सीईओ श्री एस.आर. दीवान व मुख्य अभियंता श्री जे.एस. भाटिया के साथ स्थल का निरीक्षण कर यह पाया कि समयपाल व्दारा जानकारी छिपाई गई है तथा बाद में गलत जानकारी दी है. इसके अतिरिक्त समयपाल ने योजना में कुछ दिन पूर्व रिक्त प्लाटों की जो सूचना दी थी वह भी गलत पाई गई. इससे प्राधिकरण प्रशासन ने यह पाया कि समयपाल का यह कृत्य कार्य में घोर लापरवाही है इसलिए मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री कावरे ने आज दोपहर समयपाल विनोद वोरा को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया. उल्लेखनीय है कि गत दिनों आवास एवं पर्यावरण मंत्री जी ने एक समीक्षा बैठक के दौरान यह नि्र्देश दिया था कि ट्रांसपोर्टनगर में रिक्त प्लॉटों पर निर्माण कार्य के लिए वहां के भूखंड स्वामियों को प्रेरित किया जाए जिससे भूखंडों पर निर्माण कार्य हो सके.

Dec 21, 2016

आरडीए परिसर में दो दिवसीय प्रापर्टी लोन मेला कल से

रायपुर21 दिसंबर 2016, रायपुर विकास प्रधिकरण के कार्यालय परिसर में कल से दो दिवसीय प्रापर्टी लोन मेला का आयोजन किया जा रहा है. 22 एवं 23 दिसंबर सुबह 11 बजे से शाम 5 बजे तक चलने वाले इस मेले में कई राष्ट्रीयकृत बैंकों और अन्य  वित्तदायी संस्थाओं के प्रतिनिधि हिस्सा ले रहे हैं.
प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.डी. कावरे के अनुसार यहदो दिवसीय मेला उन लोगों के लिए काफी फायदेमंद होगा जिन्हे अपने आवास के लिए ऋण की आवश्यक्ता है. इसलिए प्राधिकरण ने अपनी योजना में संपत्ति खरीदने वालों के लिए यह आयोजन किया है. श्री कावरे ने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत एलआईजी और ईड्ब्लूएस फ्लैट्स के लिए हजारों लोगों ने आवेदन किया है. गत दिनों इन्द्रप्रस्थ रायपुरा योजना के एलआईजी फ्लैट्स की पात्रता के लिए लॉटरी भी की गई है. ऐसे अधिकांश लोगों को प्रधानमंत्री योजना के अंतर्गत आवास ऋण की सुविधा भी केन्द्र सरकार व्दारा दी जानी है. आवास ऋण बैंकों के माध्यम से दिए जाएंगे साथ ही अनुदान तथा ब्याज अनुदान भी आवंटितियों को बैंकों के माध्यम से मिलेगा. इसलिए आवेदकों तथा फ्लैट्स खरीदने वालों के लिए इस प्रापर्टी लोन मेला से काफी सहूलियत मिलेगी. श्री कावरे ने बताया कि इसके अतिरिक् प्राधिकरण की अन्य योजनाओं यथा कमल विहार, इन्द्ररप्रस्थ रायपुरा योजना सहित अन्य योजनाओं में उपलब्ध प्लॉट, फ्लैट्स, डुप्लेक्स, दुकानें, हॉल इत्यादि के लिए संपत्ति की जानकारी तथा स्थल अवलोकन व ऋण लेने की जानकारी इस प्रापर्टी लोन मेला में दी जाएगी. 

राशि जमा नहीं करने पर आरडीए ने कमल विहार में दो व्यावसायिक प्लॉट किए निरस्त

रायपुर21 दिसंबर 2016, कमल विहार योजना में व्यावसायिक भूखंड लेकर निर्धारित तिथि तक राशि जमा नहीं करने वाले दो आवेदकों के प्लॉट आज रायपुर विकास प्राधिकरण ने निरस्त कर दिया. प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.डी. कावरे ने बताया कि सेक्टर 15-ए में आवंटिती मेसर्स ऐसकान इस्टेट (इंडिया) प्राइवेट लिमिटेड व डॉ. विजय खुराना एवं अनिल आहूजा ने मार्च 2015 में निविदा के माध्यम से व्यावसायिक भूखंड लिए थे. 7790 वर्गफुट और 4748 वर्गफुट के यह भूखंड जिसकी कीमत क्रमशः 89 लाख 66 हजार रुपए व 54 लाख 74 हजार रुपए थी. आवंटितियों व्दारा आवेदन के समय 10 प्रतिशत धरोहर राशि जमा की थी उसके बाद उन्हें शेष राशि तीन किस्तों में 10 दिसंबर 2015 तक जमा करना था किन्तु उक्त अवधि के एक साल बाद तक उन्होंने राशि जमा नहीं की. इसलिए प्राधिकरण ने उक्त दोनों भूखंडों की धरोहर राशि राजसात कर भूखंड का आवंटन निरस्त कर दिया है. प्राधिकरण अब इन दोनों प्लॉटों को पुनः निविदा के माध्यम से विक्रय करेगा.  

राशि जमा नहीं करने पर आरडीए ने कमल विहार में दो व्यावसायिक प्लॉट किए निरस्त

रायपुर21 दिसंबर 2016, कमल विहार योजना में व्यावसायिक भूखंड लेकर निर्धारित तिथि तक राशि जमा नहीं करने वाले दो आवेदकों के प्लॉट आज रायपुर विकास प्राधिकरण ने निरस्त कर दिया. प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.डी. कावरे ने बताया कि सेक्टर 15-ए में आवंटिती मेसर्स ऐसकान इस्टेट (इंडिया) प्राइवेट लिमिटेड व डॉ. विजय खुराना एवं अनिल आहूजा ने मार्च 2015 में निविदा के माध्यम से व्यावसायिक भूखंड लिए थे. 7790 वर्गफुट और 4748 वर्गफुट के यह भूखंड जिसकी कीमत क्रमशः 89 लाख 66 हजार रुपए व 54 लाख 74 हजार रुपए थी. आवंटितियों व्दारा आवेदन के समय 10 प्रतिशत धरोहर राशि जमा की थी उसके बाद उन्हें शेष राशि तीन किस्तों में 10 दिसंबर 2015 तक जमा करना था किन्तु उक्त अवधि के एक साल बाद तक उन्होंने राशि जमा नहीं की. इसलिए प्राधिकरण ने उक्त दोनों भूखंडों की धरोहर राशि राजसात कर भूखंड का आवंटन निरस्त कर दिया है. प्राधिकरण अब इन दोनों प्लॉटों को पुनः निविदा के माध्यम से विक्रय करेगा.   

Dec 20, 2016

आरडीए परिसर में दो दिवसीय प्रापर्टी लोन मेला 22 व 23 दिसंबर को

एलआईजी, ईडब्लूएस फ्लैट्स के आवास ऋण के लिए होगी बैंक के अधिकारियों से सीधी मुलाकात
रायपुर20 दिसंबर 2016, प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए रायपुर विकास प्राधिकरण व्दारा प्रस्तावित एलआईजी और ईड्ब्लूएस फ्लैट्स के लिए आवास ऋण लेने तथा कमल विहार, इन्द्रप्रस्थ
योजना में प्रापर्टी खरीदने वालों के लिए रायपुर विकास प्राधिकरण व्दारा 22 व 23 दिसंबर 2016 को प्राधिकरण कार्यालय परिसर में दो दिवसीय प्रॉप्रटी लोन मेले का आयोजन किया जा रहा है. प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव की पहल पर किए जा रहा यह लोन मेला दोनों दिन सुबह 11 बजे से शाम 5 बजे तक चलेगा. प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.डी. कावरे ने बताया कि इसमें कई राष्ट्रीयकृत बैंक और वित्तदायी संस्थाएं भी भाग लेंगे.

श्री कावरे के अनुसार प्राधिकरण की मार्केटिंग की टीम प्लॉट, डुप्लेक्स, फ्लैट्स, कार्यालय तथा दुकानों के लिए उपलब्ध संपत्तियों की जानकारी देने तथा स्थल पर संपत्ति का अवलोकन कराने के लिए तैयार रहेगी. आरडीए कार्यालय में संपत्ति लेने के लिए आने वाले सभी इच्छुक व्यक्तियों को पूरी जानकारी के साथ ही आवेदन पत्र भरने के लिए मार्गदर्शन भी दिया जाएगा. उल्लेखनीय है कि प्राधिकरण ने कमल विहार और शास्त्री चौक स्थित अपने पुराने कार्यालय में भी प्रॉप्रटी सेल कॉऊन्टर शुरु किया है. तथा वहां से उपलब्ध प्रापर्टी की जानकारी दी जा रही है. श्री कावरे के अनुसार प्रापर्टी लोन मेला से संपत्ति खरीदने वालों को काफी सहूलियत हुई है. मेले के आयोजन में बैंक के अधिकारी आसान किस्तों एवं लंबी अवधि में ऋण लेने की प्रक्रिया की जानकारी और मार्गदर्शन देंगे.

Dec 14, 2016

स्कूल के बच्चों, महिलाओं, पुरुषों ने अपने हाथों से निकाली इन्द्रप्रस्थ रायपुरा में एलआईजी फ्लैट्स की लॉटरी

फ्लैट्स पात्रता की 856 की लगी लॉटरी
रायपुर14 दिसंबर 2016, इन्द्रप्रस्थ रायपुरा में एलआईजी फ्लैट्स लेने की पात्रता के लिए आज हुई लॉटरी में 856 लोगों का दिन शुभ रहा. इन सभी लोगों के फ्लैट मिलना निश्चित हो गया  है. कुल 1474 लोगों की सूची में अनुसूचित जाति व  जनजाति, पिछड़ा वर्ग, शासकीय कर्मचारी,
स्वतंत्रता संग्राम सेनानी, भूतपूर्व सैनिक, शारीरिक विकलांग, निराश्रित विधवा के लिए कुल 255 फ्लैट्स का आरक्षण किया गया था. इसमें अनुसूचित जाति व जनजाति वर्ग में आरक्षित 94 फ्लैट्स के विरुध्द 57 आवेदन ही प्राप्त हुए थे. वहीं स्वतंत्रता संग्राम सेनानी वर्ग में 38 के विरुद्ध 3 आवेदन तथा सैनिक व भूतपूर्व सैनिक वर्ग में 19 के विरुध्द 3 आवेदन प्राप्त हुए थे. आरक्षित वर्ग में रिक्त रह गए फ्लैट्स के लिए नियमानुसार 3 बार विज्ञापन के बाद रिक्त फ्लैट्स अनारक्षित वर्ग की श्रेणी को आवंटन किया जा सकेगा. 

इंद्रप्रस्थ रायपुरा के 120 फ्लैटस परिसर में आज प्राधिकरण व्दारा लॉटरी के लिए गठित समिति व्दारा सम्पन्न इस लॉटरी में अपने सपनों का घर लेने की आशा से सैकड़ों लोगों ने रायपुर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव के साथ लॉटरी निकाली. इस लॉटरी में स्कूली बच्चों, महिलाओं और उपस्थित पुरुषों ने स्वयं अपने हाथों से लॉटरी निकाल कर एक दूसरे को खुश होने का मौका दिया. इस अवसर पर श्री श्रीवास्तव ने उपस्थित लोगों से कहा कि जिन लोगों को यहां फ्लैट मिल जाते हैं उन्हे बधाई है पर जिन्हें यहां फ्लैटस नहीं मिलते उन्हें निराश होने की कोई आवश्यक्ता नहीं है क्योंकि प्राधिकरण ने बोरियाखुर्द योजना में इसी प्रकार की सुविधाओं वाले प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत 1984 एलआईजी फ्लैट्स के लिए कल से पंजीयन शुरु किया है. इसलिए जिन्हें फ्लैट्स नहीं मिलेंगे उनके लिए दूसरा विकल्प भी खुला हुआ है.  
प्राधिकरण संचालक मंडल ने इस योजना के निर्माण कार्य के लिए अहमदाबाद की निर्माण एजेंसी वंदेमातरम प्रोजेक्ट प्राईवेट लिमिटेड की नियुक्ति को अपनी सहमति भी दे दी है. दो बीएचके वाले इन एलआईजी फ्लैट्स का कारपेट एरिया 811.84 वर्गफुट तथा अनुमानित कीमत 7.33 लाख रुपए आंकी गई है. जिसमें बाह्य रखरखाव के लिए एक मुश्त साढ़े 7 प्रतिशत की राशि अलग से देय होगी. इन एलआईजी फ्लैट्स के लिए केन्द्र सरकार व्दारा प्रधानमंत्री अवास योजना के क्रेडिट लिंक सबसिडी के अतंर्गत आवंटितियों को सीधे बैंकों के माध्यम से 6 लाख रुपए के आवास ऋण में 6.5 प्रतिशत का वार्षिक ब्याज अनुदान अग्रिम में मिलेगा, जो लगभग 2 लाख रुपए होगा. इस योजना में प्राधिकरण व्दारा लिफ्ट की सुविधा व सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट भी लगाया जाएगा. योजना का निर्माण कार्य 30 माह में किए जाने का लक्ष्य भी रखा गया है.

आज की इस लॉटरी के अवसर पर प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री रमेश सिंह ठाकुर, मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.डी. कावरे, संचालक सदस्य श्री गोपी साहू, श्री नारद कौशल, श्री रविन्द्र बंजारे, श्रीमती सुनयना शुक्ला,श्रीमती एम. लक्ष्मी, अतिरिक्त सीईओ श्री एस.आर. दीवान, मुख्य अभियंता श्री जे.एस. भाटिया सहित प्राधिकरण के अधिकारी और कर्मचारी उपस्थित थे. 

Dec 13, 2016

इन्द्रप्रस्थ रायपुरा एलआजी फ्लैट्स का लॉटरी कल

फ्लैट्स पात्रता की लॉटरी, फ्लैट्स नंबर का आवंटन निर्माण पूरा होने के बाद
रायपुर13 दिसंबर 2016, प्रधानमंत्री आवास योजना के अतंर्गत इन्द्रप्रस्थ रायपुरा में बनने वाले 944 एलआईजी फ्लैट्स की लॉटरी कल 14 दिसंबर को सुबह 11 बजे इन्द्रप्रस्थ योजना के 120
फ्लैट्स परिसर में होगी. प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव ने इस संबंध में दो दिन पहले एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसकी घोषणा की थी. इस लाटरी के माध्यम से यह तय होगा कि फ्लैट्स किन्हें मिलेगा अर्थात आवेदकों को फ्लैट्स पाने की पात्रता तय होगी. फ्लैट्स का नंबर निर्माण कार्य पूरा होने के बाद आवंटित किया जाएगा. प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.डी. कावरे ने बताया कि गत दिनों दावा आपत्ति आमंत्रण के बाद लॉटरी के लिए पात्र आवेदकों की सूची जारी की थी उसी सूची के आधार पर कल लॉटरी होगी.  

वंडरलैंड रिक्रिएशन पार्क 25 दिसंबर से फिर शुरु होगा

आरडीए अध्यक्ष का कड़ा रुख, प्रबंधकों को लगाई फटकार
रायपुर13 दिसंबर 2016, इन्द्रप्रस्थ रायपुरा में रायपुर विकास प्राधिकरण व्दारा डेव्हलेपर मेसर्स पंचामृत इंटरटेनमेंट कंपनी कोलकाता व्दारा विकसित वंडरलैंड रिक्रिएशन पार्क अब 25 दिसंबर से मेंटनेंस के बाद फिर शुरु कर दिया जाएगा. प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव ने आज

वंडरलैंड रिक्रिएशन पार्क के मैनेजिंग डॉयरेक्टर पंकज चौधरी और मैनेजर हेमन्त साहू को कार्यालय तलब किया और उन्हें कड़े शब्दों में कहा कि वंडरलैंड के संचालन के संबंध में गत कई दिनों से अव्यवस्था की लगातार शिकायतें आ रही हैं. इसे तत्काल दूर कर जिस उद्देश्य से इसे आवंटित किया गया है उसके अनुरुप इसका नियमित रुप से संचालन किया जाए अन्यथा कड़ी कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने कहा कि वंडरलैंड रायपुर के नागरिकों के मनोरंजन के लिए शुरु किया गया है और ऐसे मनोरंजन के साधनों को रखरखाव के लिए लंबे समय तक रोका नहीं जाना चाहिए. राजधानी होने के कारण पूरे भारत से लोग यहां आते हैं. इसलिए इसके प्रति संचालकों को सजग हो कर इसका संचालन करना चाहिए.
प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.डी. कावरे ने प्रबंधकों को कहा कि वे उनके साथ किए गए अनुबंध के अनुसार वंडरलैंड का संचालन करें अन्यथा अनुबंध की शर्तों के अनुसार प्राधिकरण को कार्रवाई करनी पड़ेगी. साथ ही वे अपने पूरे स्टॉफ को जनता से अच्छे व्यवहार बनाए रखते का प्रशिक्षण भी दें. इस पर वंडरलैंड के प्रबंधकों ने रिक्रिएशन पार्क के बंद होने पर खेद व्यक्त करते हुए कहा कि वे रिक्रिएशन पार्क का रखरखाव शीघ्र पूरा कर इसे 25 दिसंबर से पुनः चालू कर देंगे तथा भविष्य में शिकायत का कोई मौका नहीं देंगे. प्रबंधकों ने कहा कि वे इस बात का भी ध्यान रखेंगे कि रखरखाव ठीक ढ़ंग से होता रहे.

5 हजार से ज्यादा की नकदी नहीं लेगा आरडीए

रायपुर13 दिसंबर 2016, राज्य़ शासन के आदेश के बाद रायपुर विकास प्राधिकरण 5 हजार रुपए से अधिक की नकदी 15 दिसंबर से स्वीकार नहीं करेगा. प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.डी. कावरे के अनुसार राज्य शासन ने कैशलेस प्रणाली को लागू करने के अंतर्गत नगद प्राप्ति की सीमा 5 हजार रुपए तक निर्धारित की है. इसके ऊपर की राशि चेक, डिमांड ड्रॉफ्ट, बैंकर्स चेक से ली जाएगी. श्री कावरे ने बताया कि प्राधिकरण भी अब कैशलेस होने की तैयारी में है.
इसके लिए प्राधिकरण कार्यालय में तीन अलग अलग स्वाईप मशीनें लगाई जाएगी. जिसमें पहली स्वाईप मशीन सेन्ट्रल बैंक ऑफ इंडिया की दूसरी यूनियन बैंक ऑफ इंडिया की और तीसरी ऐक्सिस बैंक की होगी. इसमें क्रमशः कमल विहार योजना, इन्द्रप्रस्थ रायपुरा योजना और शेष समस्त योजनाओं के लिए राशि स्वीकार की जाएगी. बैंक से स्वाईप मशीनें आते ही यह मशीन प्राधिकरण के कैश कॉऊन्टर में लगाई जाएगी. 

Dec 9, 2016

इन्द्रप्रस्थ रायपुरा एलआईजी की लॉटरी 14 दिसंबर को

रायपुर09 दिसंबर 2016, प्रधानमंत्री आवास योजना के अतंर्गत इन्द्रप्रस्थ रायपुरा में बनने वाले 944 एलआईजी फ्लैट्स की लॉटरी 14 दिसंबर को सुबह 11 बजे होगी. प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव ने आज प्राधिकरण कार्यालय में आयोजित एक प्रेस कांन्फ्रेस में उक्त घोषणा की. यह लॉटरी इन्द्रपस्थ फेस 1 में निर्मित 120 फ्लैट्स के परिसर में होगी. इस लाटरी के माध्यम से यह तय होगा कि किन्हें फ्लैट्स मिलेगा अर्थात आवेदकों को फ्लैट्स पाने की पात्रता तय होगी. फ्लैट्स का नंबर निर्माण कार्य पूरा होने के बाद आवंटित किया जाएगा.
प्राधिकरण की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.डी. कावरे के अनुसार प्राधिकरण व्दारा मंगाए गए आवेदन पत्र के संबंध में 944 एलआईजी फ्लैट्स हेतु कुल 1512 आवेदन प्राप्त हुए थे. आवेदन पत्रों की छटाई के बाद प्राधिकरण ने पूरी सूची जारी करते हुए दावा आपत्ति आमंत्रित किया था जिसके बाद अंतिम रुप से कुल 1471 आवेदकों की सूची जारी करते हुए लॉटरी किए जाने की घोषणआ की गई  है. प्राधिकरण ने सभी 1471 आवेदकों को लॉटरी के समय उपस्थित रहने का अनुरोध किया है ताकि उनके सामने फ्लैट्स पाने की पात्रता की लॉटरी हो सके.

बोरियाखुर्द के 1984 एलआईजी फ्लैट्स की बुकिंग 13 दिसंबर से

2 बीएचके फ्लैट्स, कीमत 7.86 लाख, कारपेट एरिया 519 वर्गफुट, 
निर्माण ढ़ाई साल में, 31 दिसंबर तक होगा पंजीयन 
रायपुर, 09 दिसंबर 2016, रायपुर विकास प्राधिकरण ने प्रधानमंत्री आवास योजना के अतंर्गत बोरियाखुर्द में 1984 एलआईजी फ्लैट्स की बुकिंग 13 दिसंबर से शुरु होगी. प्राधिकरण कार्यालय में अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव, उपाध्यक्षव्दय श्री गोवर्धनदास खंडेलवाल व रमेश सिंह ठाकुर व संचालक मंडल के सदस्यों ने आज इसके आवेदन पत्र, नियम एवं शर्तों की पुस्तिका का विमोचन किया.  
प्राधिकरण के अध्यक्ष के अनुसार ये फ्लैट्स ढ़ाई साल में बन कर तैयार हो जाएंगे. प्रत्येक फ्लैट की कीमत लगभग 7.86 लाख रुपए तथा कारपेट एरिया 519 वर्गफुट होगा. य़ोजना की लागत लगभग 155.94 करोड रुपए आंकी गई है. पुस्तिका विमोचन के अवसर पर प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.डी.कावरे, संचालक मंडल के सदस्य श्री गोपी साहू, श्री रवि्द्र बंजारे, श्रीमती सुनयना शुक्ला, श्रीमती एम. लक्ष्मी,अतिरिक्त सीईओ श्री एस. आर. दीवान, मुख्य अभियंता श्री जे.एस. भाटिया भी उपस्थित थे.

प्राधिकरण कार्यालय में आज पत्रकारों, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के प्रतिनिधियों से चर्चा करते हुए श्री श्रीवास्तव ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत बनने वाले 1984 एलआईजी फ्लैट्स में निर्माण कार्य की गुणवता पर पूरा ध्यान रखा जाएगा. इस निर्माण योजना में बनने वाले फ्लैट्स के लिए रेन वाटर हार्वेस्टिंग तथा सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट का भी प्रावधान किया जाएगा. उन्होंने कहा कि इससे पहले इन्द्रप्रस्थ रायपुरा में प्रधानमंत्री आवास योजना के अतंर्गत प्रस्तावित 944 एलआईजी फ्लैट्स के लिए 1512 आवेदन प्राप्त हुए थे. श्री श्रीवास्तव ने आगे कहा कि इंद्रप्रस्थ के एलआईजी फ्लैट्स में दो कमरों की सुविधा, नागरिकों की क्रय शक्ति के अनुसार कम कीमत के फ्लैट्स होने, योजना का शहरी क्षेत्र में होने, आवागमन की सुविधा, चौड़ी सड़कों की उपलब्धता, केन्द्र सरकार व्दारा लंबी अवधि के ऋण व ब्याज राशि में अनुदान के कारण प्रधानमंत्री आवास योजना काफी लोकप्रिय हुई है. जनता की लगातार मांग के कारण रायपुर विकास प्राधिकरण के संचालक मंडल ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की मंशा के अनुरुप प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत और एलआईजी फ्लैट्स  निर्माण का निर्णय लिया है. उन्होंनें कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी देश के ऐसे परिवारों को जिनके किसी भी सदस्य के पास भारत के किसी भी भाग मे अपने स्वामित्व का कोई पक्का मकान नहीं है उनके लिए यह योजना विशेष रुप से लाई गई है. इसमें भी महिलाओं के नाम पर फ्लैट्स आवंटन को प्राथमिकता दी गई है.
बोरियाखुर्द के एलआईजी फ्लैट्स योजना की अधोसंरचना की चर्चा करते हुए आरडीए के अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव ने कहा कि योजना 24 x 7 घंटे पीने का पानी की आपूर्ति हाईड्रो न्यूमैटिक पंप के माध्यम से होगी. नाली के पानी के लिए सीवरेज नेट वर्क तथा बारिश के पानी की निकासी के लिए स्ट्रॉम वॉटर पाईप लाईन का प्रावधान किया जाएगा. विद्युत एवं दूर संचार के लिए केबल नेटवर्क की व्यवस्था होगी. फ्लैट्स की भीतरी दीवारों में व्हॉईट वॉश, बाहरी दीवारों पर वॉटरप्रूफ सीमेंट पेंट, रसोई के प्लेटफार्म में राजिम का पत्थर / रेड फ्लैग स्टोन तथा स्टील का सिंक तथा एक्जॉस्ट फैन लगाने की व्यवस्था होगी. ऊपर की मंजिलों में आने जाने के लिए हर ब्लॉक में 6 यात्रियों वाली सार्वजनिक लिफ्ट की सुविधा होगी. स्ट्रीट लाईटिंग के लिए सिंगल व डबल आर्म पोल से प्रकाश की व्यवस्था की जाएगी. यहां सड़क डामरीकृत होंगी जिसमें किनारों पर पेवर ब्लॉक्स लगाए जाएंगे. साथ ही हरा भरा उद्यान भी होगा. फ्लैटस के पंजीयन में अनुसूचित जाति / जनजाति, पिछड़ा वर्ग, शासकीय / शासन के उपक्रम/ स्थानीय संस्थाएं, स्वतंत्रता संग्राम सेनानी, सैनिक व भूतपूर्व सैनिक, शारीरिक विकलांग,निराश्रित व साधनहीन विधवा महिला तथा तृतीय लिंग समुदाय के लिए आरक्षण की राज्य शासन के नियमानुसार सुविधा दी गई है. एलआईजी फ्लैट्स का पंजीयन 31 दिसंबर 2016 तक कराया जा सकता है. आवेदन पत्र नियम एवं शर्ते प्राधिकरण कार्यालय में कार्यालयीन दिवस व समय में दोपहर 3.00 बजे तक 5 सौ रुपए का नगद भुगतान कर प्राप्त किया जा सकता है.

Dec 7, 2016

🔘 आरडीए भी होगा कैशलेस, 3 स्वाईप मशीन लगेंगी

📌 रायपुर, 07 दिसंबर 2016, राज्य सरकार के निर्देश के बाद रायपुर विकास प्राधिकरण भी अब कैशलेस होने की तैयारी में है. प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.डी. कावरे के अनुसार कार्यालय में तीन अलग – अलग स्वाईप मशीनें लगाई जाएंगी. इसमें पहली सेन्ट्रल बैंक ऑफ इंडिया की दूसरी यूनियन बैंक ऑफ इंडिया की और तीसरी ऐक्सिस बैंक की स्वाईप मशीन होगी. इसमें क्रमशः कमल विहार योजना, इन्द्रप्रस्थ रायपुरा योजना और शेष समस्त योजनाओं के लिए राशि स्वीकार की जाएगी. श्री कावरे के अनुसार इसके अतिरिक्त चेक, बैंकर्स चेक तथा ड्रॉफ्ट भी लिए जाएंगे.
📌 श्री कावरे ने बताया कि प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव के निर्देश पर कार्यालय में पूर्व में किए गए कम्प्यूटरीकरण को और बेहतर बनाने की दिशा में भी लगातार कार्य किया जा रहा है. इसमें ईआरपी के अतंर्गत सैप सॉफ्टवेयर के माध्यम से कार्य करने की दिशा में विशेषज्ञ इंजीनियर इसका कार्यक्रम तैयार कर रहे हैं. सैप सॉफ्टवेयर के तैयार होने से प्राधिकरण की निविदा प्रक्रिया, प्रांकलन, निर्माण व कार्यालयीन कार्य की सामग्री क्रय, वित्त एवं लेखा व अन्य शाखाओं के रिकार्ड इत्यादि रखने में आसानी हो जाएगी. इसके अतिरिक्त प्राधिकरण ने निविदा के लिए ई –प्रोक्योरमेंट की प्रक्रिया भी शुरु कर दी है.

Dec 6, 2016

🔘 बोरियाखुर्द में एलआईजी फ्लैट्स की बुकिंग की तैयारी

रायपुर, 06 दिसंबर 2016, प्रधानमंत्री आवास योजना के अतंर्गत रायपुर विकास प्राधिकरण बोरियाखुर्द में एक और एलआईजी फ्लैट्स की योजना लाने की तैयारी कर रहा है. प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.डी. कावरे के अनुसार इन्द्रप्रस्थ रायपुरा में एलआईजी फ्लैट्स के प्रति लोगों में भारी रुझान के देखने के बाद प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव के प्रस्ताव पर प्राधिकरण इसकी बुकिंग अर्थात पंजीयन करने की तैयारियों में जुटा हुआ है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के एलआईजी फ्लैट्स जो दो बीएचके की सुविधा के होने के कारण एक परिवार की सभी आवश्यक्ताओँ को पूरा करता है इसलिए इसे काफी पसंद किया गया. श्री कावरे ने बताया कि प्राधिकरण की योजनाएं शहरीय क्षेत्र में होने तथा आवागमन की सुविधा के कारण लोगों मे लोकप्रिय हुई है.
श्री कावरे ने यह भी बताया  कि इन्द्रप्रस्थ योजना के एलआईजी फ्लैट्स की लॉटरी भी शीघ्र की जाएगी. इसके लिए दावा और आपत्तियां आमंत्रित कर ली गई हैं और शीघ्र इसकी की तिथि घोषित की जाएगी.



🔘

Dec 5, 2016

कमल विहार का प्रचार – प्रसार अब सवारी ट्रेन से भी

श्री खंडेलवाल और श्री ठाकुर ने देखी कमल विहार प्रचार अभियान की ट्रेन
रायपुर05 दिसंबर 2016, रायपुर विकास प्राधिकरण ने कमल योजना के प्रचार के लिए अब मेमू पुश-पुल ट्रेन के माध्यम से प्रचार अभिय़ान शुरु कर दिया है. इस ट्रेन के माध्यम से पूरे एक महीने तक रायपुर, भिलाई-दुर्ग, राजनांदगांव, डोंगरगढ़, गोंदिया और नागपुर के इतवारी स्टेशन और बिलासपुर, कोरबा व शहडोल तक लोगों को विकसित हुए कमल विहार की फोटो और प्लाट के रेट की जानकारी हो सकेगी. प्रचार के इस माध्यम का प्राधिकरण ने इससे पहले कभी उपयोग नहीं किया था किन्तु अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव के निर्देश पर प्राधिकरण ने रेल गाड़ी के माध्यम से प्रचार किए जाने को इस बार अपने अभियान में शामिल किया है. प्राधिकरण के उपाध्यक्षव्दय श्री गोवर्धनदास खंडेलवाल और श्री रमेश सिंह ठाकुर ने आज रायपुर रेल्वे स्टेशन में इस ट्रेन का अवलोकन किया. इस अवसर पर आरडीए के अतिरिक्त सीईओ श्री एस.आर. दीवान भी उपस्थित थे.
रायपुर विकास प्राधिकरण व्दारा कमल विहार के व्यावसायिक, मिश्रित और सार्वजनिक व अर्ध्द सार्वजनिक उपयोग के विक्रय किए जा रहे भूखंडों दी जा रही 30 प्रतिशत की छूट को 30 दिसंबर 2016 तक बढ़ा दिया है. इसके अतिरिक्त स्वास्थ्य, शैक्षणिक व आवासीय उपयोग के प्लॉट्स पर प्रो रेटा आधार पर 15 प्रतिशत की छूट दी जा रही है.

Nov 29, 2016

प्रधानमंत्री आवास योजना इन्द्रप्रस्थ रायपुरा के एलआईजी फ्लैट्स के लिए दावा आपत्ति आमंत्रित



रायपुर, 29 नवंबर 2016, इन्द्रप्रस्थ रायपुरा के 944 फ्लैट्स के लिए मंगाए गए आवेदन पत्रों के लिए रायपुर विकास प्राधिकरण ने प्राप्त आवेदकों की सूची जारी कर आवेदकों से दावा व आपत्ति आमंत्रित किया है. प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.डी. कावरे ने यह सूची नोटिस बोर्ड में लगवा दी है. जिसका अवलोकन आवेदक व्दारा किया जा सकता है.
श्री कावरे के अनुसार इन्द्रप्रस्थ योजना में प्रधानमंत्री आवास योजना के तर्गत बनने वाले 944 एलआईजी हैं. पूर्ण रुप से भरे गए आवेदनों की संख्या 1448 है. श्री कावरे ने आगे बताया कि फ्लैट्स के लिए कुल 1514 आवेदन प्राप्त हुए थे. जिनमें से 66 आवेदन अपूर्ण पाए गए जिनके आवेदन अपूर्ण है या उसमें कोई कमी है वे उसके संबंध में 5 दिसंबर 2016 तक आवश्यक उनका आवेदन अमान्य कर दिया जाएगा. यह सूची कलेक्टर कार्यालय, तहसील कार्यालय और दस्तावेज प्राधिकरण कार्यालय में जमा कर सकते हैं. आवेदकों 5 दिसंबर 2016 तक अपना दावा आपत्ति प्रस्तुत करना होगा. इसके बाद कोई दावा आपत्ति यदि मान्य नहीं होगा तथा नगर पालिक निगम कार्यालय के सूचना पटल में भी प्रदर्शित करने के लिए भेजी गई है. 

Nov 26, 2016

आरडीए ने दोहराया संविधान का संकल्प दोहराया

रायपुर, 26 नवंबर 2016, संविधान दिवस के अवसर पर आज रायपुर विकास प्राधिकरण कार्यालय में अधिकारियों और कर्मचारिओं ने प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.डी. कावरे के नेतृत्व में भारत के संविधान की प्रस्तावना का पठन कर राष्ट्र की एकता और अंखडता सुनिश्चित करने वाली बंधुता बढ़ाने के संकल्प को दोहराया. इस मौके पर और अतिरिक्त सीईओ श्री एस. आर. भगत भी उपस्थित थे.
उल्लेखनीय है कि भारत की संविधान की प्रस्तावना के अंतर्गत इस बात का संकल्प लिया जाता है कि हम भारत के लोग भारत को एक सम्पूर्ण प्रभुत्व सम्पन्न,समाजवादी,पंथनिरपेक्ष,लोकतंत्रात्मक गणराज्य बनाने के लिए तथा उसके समस्त नागरिकों को सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक न्याय, विचार, अभिव्यक्ति,विश्वास,धर्म और उपासना की स्वतंत्रता,प्रतिष्ठा और अवसर की समता प्राप्त करने के लिए तथा उन सबमें व्यक्ति की गरिमा और राष्ट्र की एकता और अखण्डता सुनिश्चित करनेवाली बंधुता बढ़ाने का दृढ संकल्प लेते हुए 26 नवंबर 1946 के दिन संविधान सभा में भारत के संविधान को अंगीकृत,अधिनियमित और आत्मार्पित करने का पठन किया जाता है.

Nov 22, 2016

कमल विहार में बिजनेस के प्लॉट की छूट अब 30 दिसंबर 2016 तक

इन्द्रप्रस्थ - रायपुरा और बोरियाखुर्द के प्रधानमंत्री आवास योजना के 
एलआईजी फ्लैट्स का निर्माण करेगी अहमदाबाद की कंपनी
रायपुर, 22 नवंबर 2016रायपुर विकास प्राधिकरण संचालक मंडल ने प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत इन्द्रप्रस्थ रायपुरा में बनने वाले 944 एलआईजी फ्लैट्स और बोरियाखुर्द के ग्रुप ए में 768 एलआईजी फ्लैट्स निर्माण के लिए अहमदाबाद की निर्माण कंपनी की नियुक्ति को अपनी स्वीकृति दे दी. संचालक मंडल की आज कमल विहार योजना के स्थल कार्यालय में अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव की अध्यक्षता में बैठक हुई बैठक में यह भी निर्णय लिया गया. बैठक में कमल विहार योजना के बिजनेस प्लॉटस को लिए दी जा रही 30 प्रतिशत की छूट को 30 दिसंबर 2016 तक बढ़ा दिया जाए.
संचालक मंडल के सचिव व प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.डी. कावरे ने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना के अतंर्गत इन्द्रप्रस्थ रायपुरा में 944 फ्लैट्स का निर्माण किया जाएगा. इसमें प्राधिकरण व्दारा आमंत्रित आवेदन को काफी बेहतर प्रतिसाद मिला फलस्वरूप 944 फ्लैट्स के लिए 1520 आवेदन प्राप्त हुए है. उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना के अतंर्गत एलआईजी फ्लैट्स के लिए लोगों ने काफी रुचि दिखाई थी इसीलिए बोरियाखुर्द के ग्रुप ए में भी 768 एलआईजी बनाने का निर्णय लिया गया. बोरियाखुर्द के लिए भी शीघ्र ही पंजीयन की कार्रवाई शुरु की जाएगी. संचालक मंडल ने निविदा के ऊपरांत न्यूनतम दर देने वाली अहमदाबाद की निर्माण एजेंसी वंदेमातरम प्रोजेक्ट प्राईवेट लिमिटेड को दोनों का कार्यों  की स्वीकृति दी है.  
बैठक में संचालक मंडल ने कमल विहार योजना के फ्रीहोल्ड बिजनेस प्लॉट की बम्पर सेल और आवेदकों को बढ़ते रुझान को देखते हुए इसकी 30 प्रतिशत की छूट को 30 दिसंबर 2016 तक बढ़ा दिया है. पहले यह छूट 45 दिनों के लिए दी गई थी. प्राधिकरण ने इन 45 दिनों में रिकार्ड तोड सेल करते हुए लगभग 80 करोड़ रुपए के प्लॉट बेचे. बिजनेस प्लॉट्स के अंतर्गत व्यावासियक, मिश्रित तथा सार्वजनिक व अर्ध्दसार्वजनिक प्लॉटों पर 30 प्रतिशत की सीधी छूट लागू रहेगी. वहीं आवासीय, स्वास्थ्य और शैक्षणिक उपयोग के भूखंड पर प्रो रेटा आधार पर 15 प्रतिशत की छूट दी जाएगी.

      संचालक मंडल की आज की बैठक में अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव, उपाध्यक्षव्दय श्री गोवर्धन दास खंडेलवाल, श्री रमेश सिंह ठाकुर, संचालक मंडल के सदस्य वित्त विभाग के संयुक्त सचिव श्री सतीश पांडेय, आवास एवं पर्यावरण विभाग के अवर सचिव श्री जी.एल. सॉकला, नगर पालिक निगम के अपर आयुक्त श्री आशीष टिकरिहा, राज् विद्युत वितरण कंपनी के अधीक्षण अभियंता श्री आर. ए. पाठक, नगर तथा ग्राम निवेश के संयुक्त संचालक श्री विनीत नायर, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी के कार्यपालन अभियंता श्री संजीव ब्रिजपुरिया, लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन अभियंता श्री एन.के. पांडेय, वन विभाग से उप वनसंरक्षक श्री विनोद मिश्रा, अशासकीय सदस्य श्री गोपी साहू, श्री रविन्द्र बंजारे,श्री नारद कौशल, श्रीमती सुनंदा शुक्ला और श्रीमती एम. लक्ष्मी उपस्थित थी. 

Nov 17, 2016

कमल विहार में बिजनेस के प्लॉट की छूट 21 नवंबर तक
रायपुर, 17 नवंबर 2016कमल विहार में बिजनेस प्लॉट की बम्पर सेल के फ्रीहोल्ड विकसित भूखंडों मे दी जा रही 30 प्रतिशत की छूट की अंतिम तारीख 21 नवंबर 2016 है. प्राधिकरण व्दारा आवासीय, स्वास्थ्य तथा शैक्षणिक प्लॉटों पर भी प्रो रेटा आधार पर 15 प्रतिशत की छूट भी दी जा रही है. प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव के अनुसार संचालक मंडल के निर्णय के अनुसार 45 दिनों तक ही यह छूट दी गई है.
 कमल विहार, इन्द्रप्रस्थ रायपुरा के भूस्वामी को 
फ्रीहोल्ड प्लॉटस देने कैम्प की शुरुआत हुई
कमल विहार में एक सौ नए भूखंड भी आवंटन के लिए उपलब्ध होंगे
     रायपुर 17 नवंबर 2016, रायपुर विकास प्राधिकरण कार्यालय में 15 नवंबर से  कमल विहार योजना तथा इन्द्रप्रस्थ योजना के भूस्वामियों को उनकी भूमि के बदल विकसित फ्रीहोल्ड प्लॉट देने के लिए कैंप की शुरुआत हो गई है. प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.ड़ी. कावरे ने बताया कि इस कैंम्प में दो तरह के अनुबंध किए जाएंगे. पहले अनुबंध में भूस्वामियों को प्राधिकरण व्दारा योजना में  विकसित भूखंड देने तथा उसका पंजीयन रजिस्ट्रार कार्यालय में होगा. दूसरे अनुबंध में भूस्वामियों को आवंटित विकसित भूखंड की रजिस्ट्री होगी. इस हेतु एक सौ रुपए का नान जुडिशियल स्टॉंप, तीन पासपोर्ट फोटो, पहचान कार्ड, ऋण पुस्तिका – बी1 खसरा लाना होगा.
श्री कावरे के अनुसार कमल विहार के सेक्टर -1 के भूस्वामियों से भी विशेष कैंप में अनुबंध कर उन्हें विकसित प्लॉट देने की कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने बताया कि अब कमल विहार के सेक्टर एक में लगभग एक सौ नए भूखंड भी आवंटन के लिए उपलब्ध कराए जा रहे हैं. उन्होंने बताया कि पहले जिन लोगों को सेक्टर एक में भूखंड आवंटित किए गए थे उन्हें इसी सेक्टर में अन्य स्थानों पर भूखंड आवंटित किए जा रहे है.
बैंक ट्रांसफर और ड्रॉफ्ट से संपत्तियां खरीदना आसान

रायपुर,17 नवंबर 2016, रायपुर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री गोवर्धन खंडेलवाल और श्री रमेश सिंह ठाकुर ने कहा है कि प्राधिकरण की संपत्तियों को खरीदने के लिए बैंक इलेक्ट्रनिक ट्रांसफर और बैंक ड्रॉफ्ट से संपत्तियां खरीदना आसान हो गया है. जिन्हें प्लॉट, फ्लैट्स, दुकान इत्यादि खरीदना हो उन्हें अब आवेदन पत्र के लिए भी नगद राशि जमा करने की जरूरत नहीं है, ऐसे आवेदक आवेदन व निविदा पत्र नगद खरीदने के बदले उसका भुगतान बैंक के इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसफर, चेक अथवा बैंकर्स चेक के माध्यम से भी कर सकते हैं. प्राधिकरण के नियम के अनुसार 20 हजार के ऊपर की राशि नगद नहीं ली जाती किन्तु यदि छोटी राशि का भी भुगतान यदि कोई बैंक के माध्यम से करना चाहता है तो वह प्राधिकरण को स्वीकार्य है.  

Nov 10, 2016

सेक्टर एक कमल विहार में सौ नए प्लॉट मिलेंगे

भूस्वामियों को विकसित प्लॉट देने आरडीए में 15 नवंबर से विशेष कैंप
कमल विहार व इन्द्रप्रस्थ योजना के भूस्वामी को मिलेंगे फ्रीहोल्ड प्लॉटस

रायपुर, 10 नवंबर 2016नगर विकास योजना इन्द्रप्रस्थ – रायपुरा और कमल विहार योजना के ऐसे भूमि स्वामी जिन्होंने इन योजनाओं में शामिल होने के लिए अपनी भूमि रायपुर विकास प्राधिकरण को दी है, उनको अब फ्रीहोल्ड विकसित भूखंड देने के लिए 15 नवंबर से पन्द्ररह दिनों का एक विशेष कैंप प्राधिकरण कार्यालय में किया जा रहा है. 
प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव के अनुसार इस कैंम्प में दो तरह के अनुबंध किए जाएंगे. पहले अनुबंध में भूस्वामियों को प्राधिकरण व्दारा योजना में  विकसित भूखंड देने तथा उसका पंजीयन रजिस्ट्रार कार्यालय में होगा. दूसरे अनुबंध में भूस्वामियों को आवंटित विकसित भूखंड की रजिस्ट्री होगी. इस हेतु एक सौ रुपए का नान जुडिशियल स्टॉंप, तीन पासपोर्ट फोटो, पहचान कार्ड, ऋण पुस्तिका – बी1 खसरा लाना होगा.
प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.डी. कावरे के अनुसार कमल विहार के सेक्टर -1 के भूस्वामियों से भी विशेष कैंप में अनुबंध कर उन्हें विकसित प्लॉट देने की कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने बताया कि अब कमल विहार के सेक्टर एक में लगभग एक सौ नए भूखंड भी आवंटन के लिए उपलब्ध हो गए हैं. इसका भी आवंटन किया जाएगा. उन्होंने बताया कि पहले जिन लोगों को सेक्टर एक में भूखंड आवंटित किए गए थे उन्हें इसी सेक्टर में अन्य स्थानों पर भूखंड आवंटित किए जा रहे है.
                        बकाया 23 करोड़ रुपए वसूलेगा आरडीए

रायपुर10 नवंबर 2016, रायपुर विकास प्राधिकरण की बकाया संपत्तियों की वसूली अब तेज की जाएगी. 23 करोड़ रुपए की वसूली के लिए मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.डी. कावरे ने राजस्व शाखा के अधिकारियों और कर्मचारियों की बैठक ले कर उन्हें निर्देश दिया है कि वे नियमित रुप से वसूली करें. वर्तमान में डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी आवास योजना बोरियाखुर्द से 4.33 करोड़ रुपए, हीरापुर से 2.05 करोड़ रुपए, रायपुरा से 2.23 करोड़ रुपए, डॉ. खूबचंद बघेल ट्रांसपोर्टनगर रावांभाठा से 1.17 करोड़ रुपए तथा सिटी सेन्टर कम मल्टीप्लेक्स से 7.38 करोड़ रुपए की वसूली किया जाना है.  

Nov 9, 2016

🔘 आरडीए की संपत्तियां खरीदने में कोई परेशानी नहीं

आवेदन - निविदा पत्र और धरोहर राशि ड्राफ्ट व बैंक ट्रांसफर से स्वीकार्य
📌 रायपुर, 09 नवंबर 2016, रायपुर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव ने कहा है कि प्राधिकरण की संपत्तियों को खरीदने के लिए किसी भी प्रकार से नकद राशि की कोई अड़चन नहीं है. प्राधिकरण की विभिन्न योजनाओं में उपलब्ध संपत्तियों यथा प्लॉट, फ्लैट, दुकान व डुप्लेक्स खरीदने के लिए आवेदक प्राधिकरण की वेबसाईट आरडीए डॉट कॉम से आवेदन पत्र अथवा निविदा पत्र डॉऊनलोड कर सकता है तथा धरोहर राशि सहित आवेदन व निविदा प्रपत्र की राशि बैंकर्स चेक, बैंक ड्रॉफ्ट अथवा बैंक से इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसफर (एनईएफटी अथवा आरटीजीएस) के माध्यम से कर सकता है. मांगे जाने पर आवेदन पत्र व निविदा प्रपत्र प्राधिकरण कार्यालय में भी उपलब्ध है.
📌 प्राधिकरण के उपाध्यक्षव्दय श्री गोवर्धन दास खंडेलवाल और श्री रमेश सिंह ठाकुर ने इस संबंध में कहा है कि केन्द्र सरकार व्दारा 5 सौ और एक हजार रुपए के प्रचलन को बंद किए जाने से प्राधिकरण की संपत्तियों को खरीदने में न तो पहले ही कोई परेशानी थी न अब कोई परेशानी है. कोई भी व्यक्ति बैंक के माध्यम से प्राधिकरण को राशि ट्रांसफर कर प्लॉट, फ्लैटस, दुकान व डुप्लेक्स खरीद सकता है. उन्होंने कहा कि प्राधिकरण व्दारा सोमवार और शुक्रवार को संपत्ति विक्रय के लिए निविदाएं स्वीकार करता है तथा सोमवार, बुधवार, गुरुवार तथा शुक्रवार को आवासीय प्लॉट्स तथा फ्लैट के आवेदन पत्र स्वीकार करता है.

Nov 8, 2016

कमल विहार बिजनेस केन्द्र की तैयारी में

बिजनेेस प्लॉट के रेट का रिकार्ड भी टूटा
2680 के बदले 4786 रुपए में खरीदने का प्रस्ताव
रायपुर, 08 नवंबर 2016 रायपुर विकास प्राधिकरण की कमल विहार योजना में प्लॉट के मांग में जबरदस्त बढ़ोत्तरी हुई है. कल बिजनेस प्लॉट के रेट का रिकार्ड भी टूट गया. सेन्ट्रल बिजनेस डिस्ट्रिक्ट के एक प्लॉट के लिए एक व्यवसायी ने 2680 के बदले 4786 रुपए का प्रस्ताव दिया. यह अब तक का सबसे ज्यादा राशि का प्रस्ताव रहा. प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव ने इस रिकार्ड तोड प्रस्ताव पर कहा कि यह इस बात का प्रतीक है कि लोगों ने यहां बिजनेस करने की भी ठान ली और आने वाले समय में कमल विहार भी बिजनेस का एक बड़ा केन्द्र बनेगा.
प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री गोवर्धनदास खंडेलवाल ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि रायपुर विकास प्राधिकरण ने प्रापर्टी के मामले में पिछले सारे रिकार्ड तोड़ दिए है. यहां पहले विकास और फिर बसाहट की अवधारणा ने लोगों को काफी आकर्षित किया है. प्राधिकरण के दूसरे उपाध्यक्ष श्री रमेश सिंह ठाकुर ने कमल विहार के प्लॉटों के प्रति बढ़ते आकर्षण पर कहा कि कमल विहार योजना के अधोसंरचना ने लोगों का लुभाया है. इसी कारण पूरे देश में इस नगर विकास की लगातार चर्चा है. यहां देश के कई बड़े शहरों के लोगों ने भी अपने लिए प्लॉट लिए है. उन्होंने कहा कि कमल विहार रायपुर शहर के भौतिक विकास के लिए भी एक उपलब्धि है.
कमल विहार 32 दिन, 235 प्लॉट, 80 करोड़

कमल विहार में अब तक रायपुर विकास प्राधिकरण ने अपने विशे, विक्रय अभियान के दौरान पिछले 32 दिनों में 235 प्लॉटों का विक्रय किया है जिनकी कुल कीमत 80 करोड़ हो गई है. प्राधिकरण का यह विक्रय अभियान 21 नवबंर तक जारी रहेगा. 

Nov 7, 2016

🔘 राज्योत्सव में आगंतुकों के सवाल और आरडीए अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव के जवाब

राज्योत्सव 2016  में आरडीए की प्रदर्शनी
📌 रायपुर, 07 नवंबर 2016, नया रायपुर में छत्तीसगढ़ शासन व्दारा आयोजित राज्योत्सव 2016 में रायपुर विकास प्राधिकरण ने सन् 2004 से अपनी विकास और निर्माण की उपलब्धियों, विकास योजनाओं की प्रगति तथा विक्रय योग्य संपत्तियों के संबंध में जानकारी देने हेतु एक स्टॉल लगाया गया था इस अवसर पर आरडीए के सीईओ श्री एम.डी. कावरे भी उपस्थित थे.. 

📌 प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव ने राज्योत्सव के अंतिम दिन इस मेले में आंगतुकों से मुलाकात की और उनके व्दारा पूछे गए कई सवालों का एक एक कर उत्तर दिया. इससे लोगों में काफी संतुष्टि रही. आगंतुकों ने प्राधिकरण के विकास और निर्माण कार्यों तथा उसकी योजनाओं को काफी सराहा. श्री श्रीवास्तव ने भी इस मौके पर कहा कि रायपुर विकास प्राधिकरण एक भरोसेमंद संस्था है जिसका लोगों पर काफी विश्वास है. यह संस्था लगातार गुणवत्ता पूर्वक विकास और निर्माण कार्य कर रही है.इसीलिए देश – विदेश में बसे लोगों ने भी प्राधिकरण पर काफी भरोसा कर रायपुर शहर में अपने लिए प्रापर्टी ली है.

Nov 5, 2016

कमल विहार में प्लॉटों की रिकार्ड तोड बिक्री

29 दिनों में 225 प्लॉट और 75 करोड़ रुपए की प्रापर्टी बिकी
 रायपुर05 नवबंर 2016, कमल विहार योजना में प्लॉटों की बिक्री का रिकार्ड लगातार टूटता जा रहा है. पिछले 29 दिनों में 225 प्लॉट सहित कुल 75 करोड़ रुपए की संपत्ति का विक्रय के बाद भी लगातार बिजनेस के प्लॉटों की बिक्री हो रही है. इसमें अकेले सेन्ट्रल बिजनेस डिस्ट्रिक्ट के 190 प्लॉटों की बिक्री हुई.
विश्व स्तरीय नगर विकास योजनाओं में से एक कमल विहार में बिजनेस के प्लॉटों की लगातार बढ़ती मांग के बारे में प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव का कहना है कि इस रिकार्ड तोड बिक्री का श्रेय कमल विहार योजना की अवधारणा और उसके गुणवत्तापरक कार्य को दिया जा सकता है. उन्होंने कहा कि रायपुर विकास प्राधिकरण नगर विकास की एक भरोसेमंद संस्था है जो 1963 से लगातार विकास और निर्माण कार्य कर रही है. प्राधिकरण पर शहर के लोगों का ही नहीं वरन  देश विदेश में बसे लोगों ने भी भरोसा कर अपने लिए संपत्तियां खरीदी है.
 प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.डी. कावरे के अनुसार कल हुई निविदा में प्लॉट आवंटन के लिए कुल 67 प्रस्ताव मिले, जिसमें व्यावसायिक उपयोग के प्लॉटस पर सेन्ट्रल बिजनेस डिस्ट्रीक्ट हेतु 66 प्रस्ताव आए. इसमें प्रतिस्पर्धा के बाद 32 लोगों को ही प्लॉट मिले. इन 32 प्लॉटों की कीमत 9.89 करोड़ रुपए है. इसके अतिरिक्त एक सार्वजनिक अर्ध्द सार्वजनिक तथा एक आवासीय प्लॉट के लिए आवेदन आया. इन सबका मूल्य 10.57 करोड़ रुपए होता है. श्री कावरे के अनुसार प्राधिकरण व्दारा प्रचार प्रसार के बाद से बिजनेस प्लॉटस के प्रति व्यवसायियों का रुझान बढ़ा है. इसमें 646 से 975 वर्गफुट तक के प्लॉटों की काफी मांग रही है. उन्होंने बताया कि गत 7 अक्टूबर को बिजनेस, मिश्रित और सार्वजनिक व अर्ध्द सार्वजनिक प्लॉटों पर 30 प्रतिशत की छूट के बाद कमल विहार लोगों के आकर्षण का केन्द्र बन गया है. वहीं आवासीय, स्वास्थ्य व शैक्षणिक प्रयोजनों के प्लॉटों पर एकमुश्त भुगतान पर 15 प्रतिशत की छूट दी जा रही है. 

🔘 1472 ईडब्लूएस फ्लैट्स के पंजीयन अब 30 नवंबर 2016 तक

* प्रधानमंत्री आवास योजना – इन्द्रप्रस्थ रायपुरा 

केन्द्र से 1.50 लाख रुपए के अनुदान के बाद 3.65 लाख में पड़ेगा फ्लैट
🔘 रायपुर, 05 नवबंर 2016, प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत इन्द्रप्रस्थ रायपुरा में बनने वाले 1472 ईडब्लूएस फ्लैट्स के आवेदन की तिथि रायपुर विकास प्राधिकरण ने 30 नवंबर 2016 तक बढ़ा दी है. प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव के निर्देश पर यह तिथि इसलिए बढ़ाई गई है ताकि जिनके पास अपना पक्का मकान नहीं है वे इसे लेने के लिए अपना पंजीयन करा सकें.
🔘 प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.डी. कावरे के अनुसार 1472 ईडब्लूएस फ्लैट्स के लिए अब तक 819 पंजीयन हो चुके हैं. ईडब्लूएस फ्लैट का कारपेट एरिया 304 वर्गफुट तथा अनुमानित कीमत 4.79 लाख रुपए है जिसमें बाह्य रखरखाव के लिए एक मुश्त राशि 36 हजार रुपए शामिल है. इन फ्लैट्स के लिए केन्द्र सरकार व्दारा दी गई सुविधा के अनुसार बैंक ऋण लिया जा सकेगा. जिसमें केन्द्र सरकार व्दारा अनुदान के रुप में 1.50 लाख रुपए आवंटिती को दिए जाएंगे. इससे ईडब्लूएस फ्लैट 3.65 लाख रुपए में मिलेगा.
🔘 इन फ्लैट्स हेतु वही आवेदक पंजीयन करा सकेगा जो रायपुर नगर निगम क्षेत्र का निवासी हो, जिसके परिवार की कुल वार्षिक आय अधिकतम 3.00 लाख रुपए तक हो, परिवार के नाम पर भारत में कहीं भी कोई पक्का मकान नहीं हो. आवेदक परिवार की मुखिया हो या परिवार के पुरुष मुखिया और उसकी पत्नी के संयुक्त नाम या जब परिवार में कोई वयस्क महिला सदस्य नहीं हो तब परिवार के पुरुष सदस्य के नाम पर आवेदन किया जा सकता है. फ्लैट के पंजीयन के लिए आवेदन के साथ 5 हजार रुपए जमा करना होगा. आठ मंजिल के इन फ्लैट्स में एक ड्रॉईंग – डॉयनिंग रुम, एक बेडरुम, रसोई बॉलकनी सहित, बॉथरुम – लैट्रिन व यूटिलिटी एरिया, सार्वजनिक लिफ्ट एवं भूतल पर पार्किंग की सुविधा उपलब्ध होगी.

Nov 3, 2016

छत्तीसगढ़ को एक रोल मॉडल की तरह विकसित करने में प्राधिकरण की महत्वपूर्ण भूमिका – श्री गौरीशंकर अग्रवाल

रायपुर विकास प्राधिकरण कर्मचारी संघ का शपथ ग्रहण कार्यक्रम

रायपुरनवंबर 2016, छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष श्री गौरीशंकर अग्रवाल ने कहा है कि छत्तीसगढ़ को पूरे देश में एक रोल मॉडल की तरह विकसित करने में रायपुर विकास प्राधिकरण की एक महत्वपूर्ण भूमिका है. उन्होंने प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव और उनकी टीम का जिक्र करते हुए कहा कि कि यह टीम प्राधिकरण को नई ऊंचाईयों तक ले जाने की क्षमता रखती है. श्री अग्रवाल ने आगे कहा कि प्राधिकरण आने वाले दिनों में कमल विहार के नाम से जाना जाएगा. वे आज रायपुर विकास प्राधिकरण कर्मचारी संघ के शपथ ग्रहण कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में उपस्थित अधिकारियों और कर्मचारियों को संबोधित कर रहे थे.
  श्री अग्रवाल ने आज रायपुर विकास प्राधिकरण कर्मचारी संघ के नवनिर्वाचित पदाधिकारियों को शपथ दिलाई. इसमें अध्यक्ष के रुप में राजकुमार अवस्थी, उपाध्यक्ष क्रिमसन बैनेट, सचिव अब्दुल आरिफ, सह सचिव विश्राम सिंह यादव, कोषाध्यक्ष मन्नूलाल सिन्हा तथा उपकोषाध्यक्ष के रुप में दुकलहाराम यादव ने कर्मचारी हितों तथा कर्तव्य के प्रति सचेत हो कर कार्य करने की शपथ ली.
इस अवसर पर प्राधिकरण के अध्यक्ष ने अपने संबोधन में कहा कि प्राधिकरण में अधिकारियों और कर्मचारियों के बीच कार्य का एक अच्छा माहौल है. उन्होंने कहा कि वे कर्मचारियों के हित में उनके सामने जो भी दायित्व आएगा वे उसका कंधे से कंधे मिला कर निराकरण करेंगे. नवनिर्वाचित कर्मचारी संघ के अध्यक्ष श्री राजकुमार अवस्थी ने उपस्थित अधिकारियों और कर्मचारियों से कहा कि वे कर्मचारी हितों में नियमित रुप से काम करते रहेंगे.
इस कार्यक्रम में प्राधिकरण के उपाध्यक्षव्दय श्री गोवर्धन दास खंडेलवाल व श्री रमेश सिंह ठाकुर, संचालक मंडल के सदस्य श्री गोपी साहू व श्रीमती सुनयना शुक्ला, मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.ड़ी. कावरे, अतिरिक्त सीईओ श्री एस. आर. दीवान, मुख्य अभियंता श्री जे.एस. भाटिया, ट्रेड यूनियन कौंसिल के संयोजक श्री एच. पी. साहू, राज्य निगम मंडल कर्मचारी संघ के प्रातांध्यक्ष श्री आर.पी. गोस्वामी, औद्योगिक केन्द्र विकास निगम कर्मचारी संघ के अध्यक्ष श्री जे.पी. मिश्रा, तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ के उप प्रातांध्यक्ष श्री अजय तिवारी, प्रदेश महांमंत्री एवं प्रवक्ता श्री विजय झा, खनिज विकास निगम के श्री प्रफुल्ल शर्मा, बैंक एम्पलाईज एसोसियेशन के महामंत्री श्री सनद चटर्जी, केन्द्रीय कर्मचारी महासंघ के प्रांतीय महामंत्री श्री सुधाकर चिल्मवार, चेम्बर्स ऑफ कार्मस के प्रदेश मंत्री श्री भरत जैन, निगम मंडल कर्मचारी महासंघ के प्रांतीय सचिव श्री अनिल शर्मा उपस्थित थे. 
 


Oct 28, 2016

कमल विहार में 22 दिनों में 64 करोड़ रुपए की बिक्री

कमल विहार के प्लॉटों की लगातार बम्पर सेल  

आवासीय के लिए छूट 12 से बढ़ कर 15 प्रतिशत  

 📌 रायपुर, 27 अक्टूबर 2016, दीपावली के त्योहार के अवसर पर कमल विहार योजना में प्लॉट लेने की होड़ सी मच गई है. रायपुर विकास प्राधिकण व्दारा      30 प्रतिशत की छूट देने के बाद लगातार अब बम्पर सेल हो रही है. आज हुई निविदा में प्राधिकरण के 38 प्लॉट 10.59 करोड़ रुपए में बिके. गत 22 दिनों में ही प्राधिकरण ने लगभग 64 करोड़ रुपए की संपति बेची है. वहीं प्राधिकरण ने गत दिनों संचालक मंडल की बैठक में लिए गए निर्णय के अनुसार अब आवासीय प्लॉटों में एक मुश्त भुगतान करने की स्थिति में दी जाने वाली 12 प्रतिशत की छूट को बढ़ा कर 15 प्रतिशत कर दिया है.   
60 फुट की छोटी दुकानें पांच गुना अधिक दर पर बिकी
📌 यही नहीं वरन रायपुर विकास प्राधिकरण को आज कमल विहार में बस शेल्टर की 15 दुकानें को लिए नागरिकों ने निर्धारित ऑफसेट दर से लगभग पांच गुना अधिक दर का रेट भरा. प्राधिकरण व्दारा 60 वर्गफुट की छोटी दुकानों को किराये पर देने के लिए 14 रुपए प्रति वर्गफुट की ऑफसेट दर रखी थी. किन्तु इसमें भी लोगों में जम कर स्पर्धा हुई तथा अधिकतम 70 रुपए की दर भरी गई. प्राधिकरण की लगातार हो रही ऐसी बम्पर सेल पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव ने कहा है कि लोगों की बढ़ती मांग यह बता रही है कि कमल विहार का विकास और निर्माण कार्य लोगों का काफी पसंद आया है तथा लोग कमल विहार में अपना बिजनेस और अपना मकान बनाना चाहते हैं. 
22 दिनों में 64 करोड़ की सेल
📌 प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.डी. कावरे ने आज हुई निविदा और आवेदन पत्रों की जानकारी देते हुआ बताया कि सेन्ट्रल बिजनेस डिस्ट्रिक्ट (सीबीडी) के लिए कुल 74 निविदाएं आई जिसमें स्पर्धा के कारण 34 लोगों को ही प्लॉट मिला पाया. इसके अतिरिक्त सार्वजनिक व अर्ध्द सार्वजनिक का एक प्लॉट, सेक्टर लेवल व्यवासासिक का एक तथा दो आवासीय प्लॉट बिके हैं. इससे प्राधिकरण को 10.59 करोड़ की आवक होगी. श्री कावरे ने आगे बताया कि प्राधिकरण ने गत 7 अक्टूबर को बिजनेस प्लॉटों में 30 प्रतिशत छूट देने की घोषणा की थी उसके बाद से नागरिकों ने लगातार प्लॉट खरीदने में दिलचस्पी दिखाई है.

Oct 22, 2016

कमल विहार के बिजनेस प्लॉटों की बम्पर सेल

सीबीडी के प्लॉटो की मांग और प्रतिस्पर्धा बढ़ी
पहले 301 रुपए अधिक अब 631 रुपए अधिक में भरी गई निविदाएं  


रायपुर22 अक्टूबर 2016, कमल विहार योजना में 30 प्रतिशत छूट के बाद बिजनेस प्लॉटों की खरीदी में अप्रत्याशित तेजी आई है. कल हुई निविदा में बम्पर सेल हुई इसमें प्राधिकरण को लगभग 20 करोड़ रुपए की आवक होगी. शुक्रवार को निविदा में कुल 95 निविदाएं आई. इस निविदाओं में जम कर प्रतिस्पर्धा हुई, जिसमें बिजनेस प्लॉटों के अंतर्गत सीबीडी के 53 प्लॉट, एक सेक्टर लेवल का व्यावसायिक, एक मिश्रित और 2 सार्वजनिक एवं अर्ध्द सार्वजनिक उपयोग के प्लॉट बिके.
आरडीए के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एम.डी. कावरे के अनुसार 7 अक्टूबर को प्राधिकरण व्दारा बिजनेस के प्लॉटों में 30 प्रतिशत और आवासीय प्लॉटों में एक मुश्त भुगतान पर 12 प्रतिशत की घोषणा के बाद गत सोमवार 17 अक्टूबर को 10वें दिन ही 21 करोड़ के प्लॉट बिक चुके थे, जो अब 15 दिनों में बढ़ कर लगभग साढ़े 41 करोड़ रुपए हो गए है. प्राधिकरण के सीईओ श्री कावरे ने बताया कि सीबीडी में 646 वर्गफुट से 3982 वर्गफुट तक के प्लॉटों पर लोगों ने खासी दिलचस्पी दिखाई. इसमें दिया गया ऑफर निर्धारित 2680 की ऑफसेट दर से कहीं अधिक रहा. इसमें अधिकतम निविदा दर रुपए 3311 रही जो निर्धारित ऑफसेट दर से 631 रुपए अधिक रही. पिछले निविदा में यह अधिकतम दर 301 रुपए तक ज्यादा थी. श्री कावरे ने कहा कि नागरिक 30 प्रतिशत की छूट का पूरी तरह से लाभ ले रहे हैं. इससे यह पता चलता है कि लोगों ने कमल विहार की विश्व स्तरीय अधोसंरचना को काफी पसंद किया है. उन्होंने कहा कि नागरिकों ने हमेशा से प्राधिकरण के कार्य की गुणवत्ता और उसकी संपत्तियों पर काफी भरोसा किया है.
ईडब्लूएस फ्लैटस की बुकिंग अब 29 अक्टूबर तक
रायपुर विकास प्राधिकरण ने प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत इन्द्रप्रस्थ फेज 2 में प्रस्तावित ईडब्लूएस फ्लैट्स के आवेदन की तिथि 29 अक्टूबर 2016 तक बढ़ाया दिया है. 4.79 लाख रुपए के यह ईडब्लूएस फ्लैट्स केन्द्रीय अनुदान के कारण 3.65 लाख रुपए में आवेदकों को उपलब्ध होंगे. इसके लिए आवेदन पत्र प्राधिकरण कार्यालय में रुपए 500 नगद दे कर प्राप्त किया जा सकता है तथा आवेदन जमा करते समय रुपए 5 हजार रुपए जमा करना होगा.